Patna

Bihar: जेडीयू ने माना नीतीश कुमार PM पद के लिए काबिल, लेकिन दौड़ में अब शामिल नहीं

Bihar: जेडीयू ने माना नीतीश कुमार PM पद के लिए काबिल, लेकिन दौड़ में अब शामिल नहीं
जदयू ने कहा नीतीश कुमार प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नहीं. (फाइल फोटो)पटना: जदयू की राष्ट्रीय कार्यकारिणी में पार्टी के वरिष्ठ नेता केसी त्यागी ने कहा कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार में प्रधानमंत्री बनने की सारी योग्यताएं हैं. लेकिन, वे प्रधानमंत्री पद के दावेदार नहीं है. जदयू की राष्ट्रीय कार्यकारिणी में आज कई अहम फैसलों…

Bihar: जेडीयू ने माना नीतीश कुमार PM पद के लिए काबिल, लेकिन दौड़ में अब शामिल नहीं

जदयू ने कहा नीतीश कुमार प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नहीं. (फाइल फोटो)

पटना:

जदयू की राष्ट्रीय कार्यकारिणी में पार्टी के वरिष्ठ नेता केसी त्यागी ने कहा कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार में प्रधानमंत्री बनने की सारी योग्यताएं हैं. लेकिन, वे प्रधानमंत्री पद के दावेदार नहीं है. जदयू की राष्ट्रीय कार्यकारिणी में आज कई अहम फैसलों पर निर्णय लिया गया. जदयू की बैठक में सबसे अहम यह रहा कि पार्टी ने बिहार सीएम नीतीश कुमार में प्रधानमंत्री बनने के सभी गुण बताए हैं.

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल 10 दिन विपश्यना के लिए गए

बिहार के मुख्य मंत्री नीतीश कुमार प्रधान मंत्री पद के दावेदार नहीं हैं. हालांकि उनमें इसके लिए सारी योग्यता हैं. जदयू अध्यक्ष लल्लन सिंह ने कहा कि हमने कभी नहीं कहा कि नीतीश कुमार देश का प्रधानमंत्री बनने का दावा करते हैं. इसे लेकर पार्टी ने कोई दावेदारी नहीं की है. उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी छोटी है. लेकिन नीतीश कुमार की सोच और उनकी योग्यताएं ऐसी हैं जो बताती हैं कि उनमें देश का प्रधानमंत्री बनने के सभी गुण हैं. 

@NitishKumar⁩ ने पीएम बनने का सपना छोड़ा कम से कम उनके पार्टी द्वारा ये प्रस्ताव तो यही इशारा करता हैं कि जब तक ⁦@narendramodi⁩ हैं फ़िलहाल तब तक कोई वेकन्सी नहीं हालाँकि उनके पार्टी के अनुसार उनमें सब योग्यता हैं ⁦@ndtvindia⁩ ⁦@Anurag_Dwary⁩ ⁦ pic.twitter.com/9cjwuUScZ5

— manish (@manishndtv) August 29, 2021

पार्टी ने जातिगत जनगणना के साथ अब अत्यंत पिछड़ों के पहचान के लिए बनायी गयी रोहिणी कमिशन को रिपोर्ट सार्वजनिक कर जल्द से जल्द लागू करने का एक दूसरा प्रस्ताव भी पारित किया. इसे भाजपा के ऊपर राजनीतिक दबाव की रणनीति के तहत माना जा रहा है.

‘किसानों से माफी मांगें हरियाणा के CM’, मेघालय के गवर्नर ने की मांग- SDM को भी करें तुरंत बर्खास्त

पार्टी ने साथ-साथ भाजपा से आगामी यूपी विधानसभा चुनाव में तालमेल की विधिवत पेशकश की है और कहा है कि सम्मानजनक सीटें ना मिलने पर वो अकेले चुनाव में जाने का विकल्प खुला रखेंगे. जनसंख्या नियंत्रण पर पार्टी ने भाजपा के दबाव के बजाय जनजागरण और जागरूकता से नीति पर अमल करने का सुझाव दिया है.

अधिक पढ़ें

टैग

dainikpatrika

कृपया टिप्पणी करें

Click here to post a comment